उत्तरप्रदेशक्राइम

मां ने दो बेटियों का गला रेत कर की हत्या/अपना भी गला रेता

भारत रक्षक न्यूज

महराजगंज निचलौल थाना क्षेत्र अंतर्गत महिला ने दो मासूम बेटियों की गला रेत कर हत्या कर दिया कुछ देर बाद अपना भी गला रेत कर खुदकुशी करने की कोशिश की
स्कूल से लौटी भांजी की सूचना पर पहुंचे पड़ोसी और पुलिस ने गंभीर रुप से जख्मी महिला को अस्पताल में भर्ती कराया
जहां से उसे गोरखपुर मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया गया मौके से मिले सुसाइड नोट में महिला ने लिखा है कि मेरी मौत के बाद बेटियां अनाथ हो जाती इसलिए पहले उन्हें मार रही हूं निचलौल शहर के घोड़हवा वार्ड की अनु उर्फ साक्षी 30 वर्ष दो मासूम बेटियों अपेक्षा 5 वर्ष और आरोही 2 वर्ष के साथ रहती है पति अमन विश्वकर्मा फैजाबाद में शुगर मिल में नौकरी करता है बताया जाता है कि बुधवार दोपहर बाद साक्षी ने पहले अपेक्षा और आरोही के सिर पर रॉड से हमला किया अचेत होने पर चाकू से दोनों का गला रेता इसके बाद जान देने की नीयत से चाकू से अपना गला रेत लिया
ननिहाल में रह रही साक्षी की भाजी शिखा स्कूल से लौटी तो मुख्य दरवाजा बंद देखकर कई बार आवाज लगाई लेकिन अंदर से जवाब नहीं मिला शिखा पड़ोसी की छत के रास्ते घर में गई तो देखा कि मामी साक्षी के कमरे का दरवाजा अंदर से बंद है खिड़की से अंदर झांक कर देखा तो सन रह गई उसने आसपास के लोगों को घटना की जानकारी दी और आसपास के पड़ोसी इकट्ठा होकर पुलिस को सूचना दी मौके पर पुलिस पहुंचकर लाश को अपने कब्जे में लिया और पुलिस को सुसाइड नोट मिला उसमें साफ-साफ लिखा था पति के लिए सज नहीं पाती थी इसलिए आत्महत्या कर रही हूं
निचलौल में दो मासूम बेटियों की हत्या की खबर से शहर के घोड़ा हवा वार्ड में सनसनी फैल गई है
जान देने की कोशिश करने वाली मां साक्षी का लिखा एक सुसाइड नोट मिला पुलिस के मुताबिक सुसाइड नोट में साक्षी ने लिखा है की पति मुझसे बहुत प्यार करते हैं मैं भी उनसे बहुत प्यार करती हूं लेकिन कभी भी उनके लिए सज धज नहीं पाती थी मैं आत्महत्या करना चाहती हूं लेकिन मेरे मरने के बाद दोनों मासूम बेटियों अनाथ हो जाएंगी इसलिए पहले दोनों की हत्या करने के बाद आत्महत्या करूंगी पुलिस के अनुसार अनु उर्फ साक्षी के कमरे से एक कॉपी बरामद हुई कॉपी के अंदर ढाई पन्ने में उसने सुसाइड नोट लिखा है पुलिस का कहना है कि सुसाइड नोट में लिखा गया है की मोबाइल फोन चलाते समय स्क्रीन पर छोटे हरे रंग की लाइट जलती है लगता है कि कोई मेरा पीछा कर रहा है इसे लेकर काफी दिनों से परेशान रहती हूं पीछा छुड़ाने की कोशिश भी की लेकिन असफल साबित हुई पूरी घटना की जिम्मेदारी मेरी है मौत के बाद मेरे पति और परिजनों को पुलिस प्रशासन परेशान ना करें इसलिए सुसाइड नोट लिख रही हूं क्षेत्राधिकारी अनुज कुमार सिंह ने कहा है कि मौके से मिले सुसाइड नोट को कब्जे में लेकर सील कर दिया गया

Bharat Rakshak News

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button